मिठाई की दुकान कैसे शुरू करें? | How to Start Sweets Business in Hindi

हमारा देश बहुत सारी चीज़ो के लिए प्रचलित है। यहाँ सभी प्रकार की वस्तुए मिलती है। जिसका व्यवसाय एवं उत्पादन भी यहाँ किया जाता है। हमारे देश में बहुत सारी ऐसी खाने की वस्तुए मिलती है जिसको बनाना तथा उसका व्यवसाय करना बहुत से लोगो का सपना और रोजगार का माध्यम होता है। 

इसी तरह आज हम जानेंगे की मिठाई की दुकान कैसे शुरू करे। और अगर आप स्वीट्स और स्नैक्स के बिज़नेस की शुरुवात करना चाहते है, तो यह आपके लिए एक अच्छा मौका और आईडिया हो सकता है।

तो मिठाई की दुकान की शुरुआत करने का यह एक अच्छा समय है, क्योकि अभी इस साल के त्योहारों का अवसर है। और त्यौहार बिना स्वीट्स और स्नैक्स के अधूरे होते है। सारे गली मोहल्लो में जगह जगह स्नैक्स और स्वीट्स की दुकाने होती है, फिर भी उसकी कमी रह ही जाती है, तो अभी मिठाई की दुकान बिज़नेस को शुरु करने के लिए एक अच्छा मौका साबित हो सकता है।  

आज इस आर्टिकल में हम आपको स्वीट और स्नैक्स बिजनेस तथा मिठाई की दुकान कैसे शुरू करें, इसकी पूरी जानकारी देंगे। जिसमे आपको बिज़नेस शुरू करने से लेकर उसके खर्च तथा मुनाफे की सारी जानकारिया मिल जायगी।

Table of Contents

मिठाई की व्यवसाय कैसे शुरू करें?

यदि आप अपनी खुद की मिठाई का व्यापार शुरू करना चाहते हैं, तो यह नितांत आवश्यक है कि बिज़नेस शुरू करने के लिए बाजार में अच्छे पहचान का होना जरुरी है। यही कारण है कि अपने स्टोर के लिए एक ऐसी जगह का चयन करना जहां अधिक लोग आएंगे, अगर आपका मिठाई का दुकान बाजार में है तो यह बहुत अच्छा होगा। और साथ ही आपको स्वीट्स और स्नैक्स बनाने से लेकर सभी प्रकार की जानकारी होनी चाहिए, ताकि आप व्यवसाय शुरू करते समय बिलकुल तैयार रहे।

Mithai ki dukan शुरू करने के लिए आपको पहले यह तय करना है कि क्या आप एक विशिष्ट प्रकार की स्वीट्स और स्नैक्स की स्टोर खोलना चाहते है या आप विभिन्न प्रकार की स्वीट्स और snacks के व्यापार करना चाहते हैं।

और इस बात का ध्यान भी रखना चाहिए कि आपने जहा अपना स्टोर खोला है वहां मिठाई की कितनी दुकानें हैं। इसे आपको जानना बहुत जरूरी है। क्योंकि आपका स्टोर ऐसी जगह होना चाहिए जहां आपका कॉम्पिटिशन कम होगा।

इसके बारे में स्पष्टता होना बहुत जरूरी है, क्योंकि यह आपकी स्टोर की भविष्य की रणनीति पर निर्भर करता है भविष्य के लिए यह ठीक से योजना बनाने का एकमात्र तरीका है। इसके अलावा, हम आपको बता दें कि आप चाहें तो एक प्रसिद्ध और लोकप्रिय मिठाई की दुकान की फ्रेंचाइजी भी ले सकते हैं और अपना खुद का स्टोर भी खोल सकते हैं।

बिज़नेस स्टार्ट करने से पहले बाजार का अध्ययन करें

किसी भी व्यवसाय को सफलतापूर्वक चलाने के लिए और शुरू करने से पहले बाजार का अनुसंधान करना बहुत जरूरी है। इसलिए उस क्षेत्र में जाएं जहां आप एक मिठाई की दुकान खोलना चाहते हैं और थोड़ा अनुसंधान(Research) करे।

यह भी देखें कि आस पास की क्षेत्र कैसी है? वहां की आबादी कितनी है, उस स्थान से मुख्य बाजार की दुरी कितनी है? या फिर बाजार में ही आपके पास उपयुक्त स्थान है। और थोड़ी बहुत जानकारी इस चीज़ की भी एकत्रित कर लेना आवश्यक है कि उस स्थान में mithai ki dukan कितने है? वहां कितनी स्वीट्स और स्नैक्स की मांग और आपूर्ति है? इस तरह, आपको पता चल जाएगा कि आपकी स्वीट्स और स्नैक्स की दुकान का व्यवसाय क्षेत्र में सफल होगा या नहीं।

मिठाई की दुकान

दुकान के लिए कच्चे माल का प्रबंध करना

अपनी दुकान में स्वीट्स और स्नैक्स बनाने के लिए बहुत ज्यादा मात्रा में कच्ची सामग्रीओ की आवश्यकता होगी, जिसे आप अपने नजदीकी स्थानीय बाजार से थोक(bulk) में खरीद सकते हैं, क्योंकि वहां आपको सस्ते दामों पर अच्छा सामान मिल सकता है। क्योंकि स्नैक्स और स्वीट्स बनाने में बहुत सारी, सभी तरीके की सामान की जरुरत होगी, जिसके लिए आप थोक विक्रेताओं से सामान उचित दाम में आराम से खरीद सकते हैं।

हम जानते है कि स्वीट्स और स्नैक्स बहुत तरह की होती है और सबको तैयार करने की विधि और सामग्रियां(कच्चे माल) भी अलग अलग होती है, तो हम आपको इस बात से अवगत करा देना चाहते है कि आप अपने शॉप में बनने वाले मिठाई और स्नैक्स को बनाने की विधि जानकर रखे ताकि आप अपने अंतर्गत काम करने वाले शेफ को दिशानिर्देश दे सके।

दुकान के व्यवसाय में आवश्यक उपकरण 

स्वीट और snacks को बनाने के लिए उपकरण का होना बहुत महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि आप इसके बिना अपना मिठाई की दुकान नहीं खोल सकते हैं। आपको बता दें इसके लिए आपको एक गैस स्टोव, मिठाई के लिए फ्रिज, एक बड़ा पैन, और बड़े बड़े बर्तन, पानी की टंकी, पैकेजिंग का सामान आदि बहुत सारी चीज़ो की जरूरत होती है।

इन सभी चीजों को खरीदने पर आपको 50000 से लेकर 100000 रुपये तक की लागत आ सकती है, और सामान बनाने से लेकर सभी चीज़ो के लिए जगह भी साफ़ सुथरी होनी चाहिए।

मिठाई की दुकान के लिए एक उचित स्थान का चयन 

जब आप अपना स्वीट्स और स्नैक्स का व्यवसाय शुरू करते हैं तो आपके पास इसके लिए एक अच्छी जगह का होना बहुत आवश्यक है। इसलिए अपने स्टोर के लिए ऐसी जगह चुनें, जहां लोग आते जाते रहते हैं अगर आपका स्टोर प्राइमरी मार्केट में हो तो और अच्छा होगा। 

यदि आप अपने स्टोर के लिए सुविधाजनक स्थान नहीं चुनते हैं तो आपका व्यवसाय शुरू होने से पहले ही बंद हो जाएगा या आपको भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। साथ ही आप यह भी देख सकते हैं कि जिस क्षेत्र में आपने अपना स्टोर खोला है वहां ऐसे कितने स्टोर हैं। यह जानना आपके लिए बेहद जरूरी है। क्योंकि आपका स्टोर उन जगहों पर ज्यादा चलेगा जहां आपके प्रतियोगियों की संख्या कम रहेगी। 

मिठाई स्टोर शुरु के लिए लाइसेंसिंग और पंजीकरण

एक बार जब आप अपनी सभी योजनाओं को पूरा कर लेते हैं, तो इस व्यवसाय को शुरू करना आपका अगला कदम होगा, इसके लिए कन्फेक्शनरी(हलवाई की दुकान) का लाइसेंस और पंजीकरण प्राप्त करना जरुरी है। 

ऐसा करने के लिए आपको FSSAI द्वारा जारी एक खाद्य लाइसेंस प्राप्त करना होगा। इसके अलावा आपको एक बहुत ही सरल जीएसटी(GST) पंजीकरण करने की आवश्यकता है। 

स्वीट्स और स्नैक्स दुकानों के लिए स्वास्थ्य लाइसेंस भी बहुत महत्वपूर्ण हैं जिसके लिए आपको अपने क्षेत्र में नगर निगम से संपर्क करना होगा। इसके बाद शहर का कोई अधिकारी आपके स्टोर पर आएगा, और आपके स्टोर का ठीक से निरीक्षण करने के बाद आपको स्वास्थ्य लाइसेंस दे दिया जाएगा।

रजिस्ट्रशन और पंजीकरण के दौरान बिज़नेस शुरू करने वाले व्यक्ति की भी पर्सनल जानकारिओं तथा डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ती है:

जैसे Personal Document (PD):- Personal Document के अन्दर बहुत से डॉक्यूमेंट होते है जैसे:

  • ID Proof: Aadhaar Card, Pan Card, Voter Card
  • Address Proof: Ration Card, Electricity Bill, Insurance
  • Bank Account With Passbook
  • Photograph Email ID, Phone Number, Other Documents
  • बिजनेस Documents
  • Business Registration
  • Business pan card
  • GST Number
  • FSSAI लाइसेंस
मिठाई

स्टोर संचालन के लिए कर्मचारी

इसके बाद आपको अपनी दुकान के लिए मिठाई बनाने के लिए एक दो बहुत ही कुशल स्वीट्स और स्नैक्स बनाने वाले बावर्ची(Chef) और इस काम को कुशल से करने वाले अन्य कारीगरों की आवश्यकता होगी। और अगर आप स्वीट्स और स्नैक्स पकाना आता हो तो आपको मिठाई की दुकान शुरु करने में कोई दिक्कत नहीं होगी। 

तब आप अपने लिए कुछ कारीगर और कर्मचारियों को रख सकते हैं। लेकिन अगर आप स्वीट्स और स्नैक्स बनाना नहीं जानते हैं तो आपको पहले एक या दो कर्मचारियों का ध्यान रखना होगा। और जैसे-जैसे आपका व्यवसाय बढ़ता है आप अपने  स्टोर पर काम करने के लिए और लोगों को काम पर रख सकते हैं। 

ध्यान रखें कि, यदि आप शुरू में अपने स्टोर में मिठाई का काम करने के लिए बहुत सारे लोगों को काम पर रखते हैं तो इससे आपको कोई फायदा नहीं होगा लेकिन महीने के दौरान उनके वेतन का बोझ बढ़ जाएगा, इसलिए आप बेहतर कर्मचारियों के साथ स्टोर की शुरुआत करें।

पैकेजिंग(Packaging) की व्यवस्था

स्वीट्स और स्नैक्स आमतौर पर सभी उम्र के लोगों को पसंद आती हैं लेकिन छुट्टियों के दौरान इसकी मांग बढ़ जाती है। इसलिए यह जरूरी है कि आपके स्टोर में पर्याप्त पैकेजिंग सुविधाएं हों ताकि जब ग्राहक अपनी पसंद की कोई स्वीट्स या स्नैक्स खरीदना चाहे, तो आप बिना देर किए उन्हें उनकी पसंदीदा सामान दे सकें। 

साथ ही यहां हम आपको बता दे कि स्वीट्स और स्नैक्स पैक करने के लिए हमें 1 kg, 500g और 250g बॉक्स की आवश्यकता होती है जहां हम ग्राहकों की आवश्यकताओं के अनुसार चीज़ो को पैक कर सकते हैं।

मिठाई बिज़नेस में लगने वाली लागत  

मिठाई की दुकान को स्टार्ट करने में आपको 1 लाख रुपये से लेकर 2 लाख रुपये तक की राशि लगानी पड़ सकती है। आपको यह भी बता दें, कि इस व्यवसाय में आपको स्वीट्स और स्नैक्स के उत्पादन से लेकर, उसके लाइसेंसिंग और उत्पादन के लिए कच्चे माल, बिज़नेस का पंजीकरण और रजिस्ट्रेशन तथा उत्पादन के उपकरणों में निवेश करना होता है।

स्वीट्स और स्नैक्स बिज़नेस से होने वाला लाभ 

स्वीट्स और स्नैक्स बिजनेस के मुनाफे की बात करें तो यह एक ऐसा बिजनेस है जो साल भर चलता रहता है और इस बिजनेस से आप महीने के 30 हज़ार से लेकर 50 हज़ार तक भी मुनाफा कमा सकते हैं।

त्योहारों का अवसर में यह बिजनेस आपको सबसे ज्यादा फायदा पहुंचाएगा। क्योंकि त्योहारों पर लोग मिठाई जरूर खरीदते हैं। स्वीट्स और स्नैक्स के बिना त्यौहार अधूरे होते है। त्योहारों के अवसर में यह संख्या दोगुनी भी हो सकती है।

भारत मैं mithai ki dukan खोलना अब पहले से महत्त्वपूर्ण और Munafe Wala बिज़नेस है इसलिए यदि कोई मिठाई की दुकान शुरू करना चाहता है, तो इस व्यवसाय का भविष्य बहुत अच्छा है।

स्वीट्स और स्नैक्स बिज़नेस की मार्केटिंग सबंधी जानकारियाँ

सिर्फ अच्छी जगह पर दुकान खोलना ही काफी नहीं है। ऐसा करने के लिए आपको अपनी मिठाई की दुकान का अच्छी तरह से विज्ञापन करने की भी आवश्यकता है। मैं आपको बताना चाहती हूं कि आपको अपनी mithai ki dukan को स्थानीय क्षेत्र में अच्छी तरह से बढ़ावा देने की जरूरत है। 

आप पहले दिन स्टोर पर लोगों को मिठाई खरीदने और उन्हें मुफ्त में मिठाई देने के लिए आमंत्रित कर सकते हैं। और उनसे अपने पास बनाई गयी कुछ स्वीट्स और स्नैक्स को खिलाकर उसके स्वाद सम्बन्धी राय भी ले सकते है।

हमारा मानना ​​है कि यदि आपकी मिठाइयां मीठी और स्वादिष्ट हैं तो आपके ग्राहकों के आपके स्टोर पर आने की संभावना अधिक होगी। आप अखबार के पोस्टर और सोशल मीडिया के जरिए भी अपनी मिठाई की दुकान की मार्केटिंग कर सकते हैं।

मिठाई की दुकान

बिज़नेस में होने वाली जोखिम 

यह व्यवसाय एक जोखिम-मुक्त व्यवसाय साबित हो सकता है अगर इसे सही तरीके से किया जाए। हालाँकि ग्राहकों को पहले दूकान पर लाने में कुछ प्रयास करनी पड़ सकते हैं। यहां आपको बता दें कि यह एक ऐसा बिजनेस है जिसे शुरू करने के 12 महीने बाद आप अच्छी खासी मुनाफा कमा सकते हैं।

>> बेकरी शॉप कैसे शुरू करें | How to Start a Bakery Business <<

स्वीट्स और स्नैक्स बिज़नेस में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

मिठाई की दुकान के लिए कौन सी लाइसेंस की आवश्यकता होती है?

फससअआई (FSSAI) | Food Safety and Standards Authority of India

दुकान में मिठाइयाँ को बनाने के लिए कैसे कारीगरों का चुनाव करना चाहिए?

अनुभवी और कुशल कारीगरों को रखना चाहिए।

Mithai ki dukan दुकान खोलने के लिए आप जगह कैसे चुनते हैं?

भीड़-भाड़ वाली जगह चुनें और जहा ज्यादा स्वीट और स्नैक्स की दूकान न हो वहा दुकान खोले।

मिठाई की दुकान खोलने के लिए क्या आपको बहुत अधिक निवेश की आवश्यकता पड़ती है?

नहीं। मिठाई की दुकान को स्टार्ट करने में आपको 1 लाख रुपये से लेकर 2 लाख रुपये तक की राशि लगानी पड़ सकती है।

दुकान में स्वीट्स और स्नैक्स के अलावा और क्या चीजें रखी जा सकती हैं?

खाने के बाद के कुछ पीने योग्य प्रदार्थ। 

यदि आपको यह मिठाई की बिज़नेस सफलता से शुरू करने का प्लान की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला, तब कृपया इस पोस्ट को Share कीजिये और ऐसे ही जानकारी एवं मुनाफा बनाने के तरीकों पर और जानकारी के लिए MunafeWala से जुड़े रहे।

Leave a Comment